गौ समाचार

जानें...इंजीनियर आबिद हुसैन कैसे बने गोभक्त, खोली गौशाला

जानें...इंजीनियर आबिद हुसैन कैसे बने गोभक्त, खोली गौशाला

एक मुस्लिम इंजीनियर में गायाें के प्रति इतनी आस्था अचानक क्यों जागी, ऐसा क्या हुआ कि इस गोप्रेमी ने गोशाला खोल ली। 

आबिद हुसैन और जीव रक्षा गौशाला 

गोशाला खोलने वाले मुस्लिम समुदाय के इंजीनियर आबिद हुसैन हैं। वे नगीना खंड के छोटे से गांव मोहमदनगर के रहने वाले हैं। आबिद अपने पैतृक गांव में ही जीव रक्षा गौशाला चलाते हैं। वे पिछले करीब तीन साल से शिक्षित मुस्लिम युवा अपने निजी खर्चे पर फ़िलहाल 50 से अधिक गायों की सेवा कर रहे हैं। 

ये वो अल्फाज़ हैं जो उन्हें चुभते थे...

जानिए, किस राज्य की सरकार आधुनिक डेयरी के लिए दे रही है ब्याज मुक्त ऋण

आधुनिक डेयरी

हरियाणा में पशुपालन विभाग राज्य के सभी जिलों में आधुनिक डेयरी की स्थापना करेगा। इस डेयरी की स्थापना के लिए लोगों को ब्याज मुक्त ऋण मुहैया कराया जाएगा। इन डेरियों में सब कुछ आधुनिक तरीके से किया जाएगा। गायों से दूध निकालने से लेकर गोबर के उठान तक सब कुछ मशीन आधारित होगा। ताकि गायों की सुरक्षा के साथ-साथ लोगों को जो दूध और घी मिले, वह भी स्वास्थ्यवर्धक हो। योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी पीके महापात्रा ने राज्य के सभी जिलों में पशुपालन विभाग के डिप्टी डायरेक्टर से संपर्क करना शुरू कर दिया है।

उत्तर प्रदेश: योगी सरकार राज्य के हर गांव में खोलेगी गौशाला, शुरुआत बुंदेलखंड से होगी

उत्तर प्रदेश: योगी सरकार राज्य के हर गांव में खोलेगी गौशाला, शुरुआत बुंदेलखंड से होगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राजनेता के साथ-साथ एक सन्यासी भी हैं। और उनका गायों से प्रेम किसी से छुपा नहीं है. जब से वो संन्यासी बने, गाय को चारा खिलाना और उनकी देखभाल करना उनकी जिंदगी का हिस्सा है. मुख्यमंत्री बनने के बाद भी ये सिलसिला टूटा नहीं है. जब भी वो गोरखपुर जाते हैं, दिन की शुरुआत गोसेवा से ही होती है. इतना ही नहीं लखनऊ में अपने सरकारी आवास पर भी उन्होंने गोरखपुर से कई गायों को लाकर रखा है और खुद उनकी देखभाल करते हैं।

सरकार की हर गांव में एक गोशाला खोलने की योजना

गौशाला खोलने के लिए जमीन देंगे

गौशाला खोलने के लिए जमीन देंगे

पिथौरागढ़। गौ रक्षा सेवा सदन के उपाध्यक्ष गणेश जोशी ने गौशाला खोलने के लिए बड़ावे में जमीन देने की घोषणा की है। समिति ने जमीन समतलीकरण और भवन के निर्माण के लिए चंदा मांगने का निर्णय लिया है। इसके लिए बैंक में संयुक्त खाता खोला जाएगा। 

Pages