गौ समाचार

सामुहिक गौशाला

सामुहिक गौशाला

यदि आप कालोनी में या शहर में रहते हैं... आपका दो कमरे का मकान है... या आप कहीं चौथी मंजिल पर रहते हैं, तो भी आप गौपालन कर सकते हैं ।। भारतीय गौवंश के संरक्षण में आप भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं... यह काम आर्थिक सांस्कृतिक और आध्यात्मिक दृष्टि से तो महत्वपूर्ण हैही... स्वास्थ्य रक्षण का बेहतरीन काम भी सामुहिक रूप से गौशाला खोलकर किया जा सकता है... 

एक बात.. सौ टके की... 

500 करोड़ खर्च कर गौशाला खोलेंगे : बाबा रामदेव

500 करोड़ खर्च कर गौशाला खोलेंगे : बाबा रामदेव

योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा कि सारी सृष्टि प्रभु का रूप है। सृष्टि में एक ही प्रभु हैं। आह्वान किया कि सृष्टि में एक ही प्रभु देखने का संकल्प लें। एलान किया कि वह 500 करोड़ खर्च करके गौशाला (नंदीशाला) खोलेंगे और 5 लाख ऐसी बछिया तैयार करेंगे जो एक बार में 20-25 किलो दूध देंगी।

बिहार: नीतीश की पहल पर पटना में लावारिस गायों के लिए गौशाला

लावारिस गायों

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहल पर राजधानी पटना में बेसहारा और सड़कों पर लावारिस विचरण करने वाली गायों के लिए गौशाला बनाई गई है, जहां चारा और इलाज की व्यवस्था की गई है। पटना के दीदारगंज स्थित 'श्रीकृष्ण गौशाला' में अब तक 22 गायों को पहुंचाया गया है। नीतीश कुमार ने पिछले दिनों गौरक्षकों को लावारिस गायों की देखभाल करने की नसीहत दी थी। उन्होंने कहा कि था कि जल्द ही पटना में एक गौशाला का निर्माण कराया जाएगा। 

जानें...इंजीनियर आबिद हुसैन कैसे बने गोभक्त, खोली गौशाला

जानें...इंजीनियर आबिद हुसैन कैसे बने गोभक्त, खोली गौशाला

एक मुस्लिम इंजीनियर में गायाें के प्रति इतनी आस्था अचानक क्यों जागी, ऐसा क्या हुआ कि इस गोप्रेमी ने गोशाला खोल ली। 

आबिद हुसैन और जीव रक्षा गौशाला 

गोशाला खोलने वाले मुस्लिम समुदाय के इंजीनियर आबिद हुसैन हैं। वे नगीना खंड के छोटे से गांव मोहमदनगर के रहने वाले हैं। आबिद अपने पैतृक गांव में ही जीव रक्षा गौशाला चलाते हैं। वे पिछले करीब तीन साल से शिक्षित मुस्लिम युवा अपने निजी खर्चे पर फ़िलहाल 50 से अधिक गायों की सेवा कर रहे हैं। 

ये वो अल्फाज़ हैं जो उन्हें चुभते थे...

Pages